Connect with us

Crime

झारखण्ड में प्रेमी द्वारा प्रेमिका को चाकू मारे जाने का पुराना वीडियो एक बार फिर सांप्रदायिक रंग देकर किया गया शेयर

ये वीडियो इससे पहले सितंबर 2019 में भी वायरल हुआ था जिसका फैक्ट चेक Newschecker की टीम ने तब भी किया था।

Published

on

लव जिहाद

सोशल मीडिया पर तनिष्क (Tanishq) के एक विज्ञापन को बॉयकॉट करने की मांग के बाद ‘लव जिहाद’ एक बार फिर सुर्खियों में है। कई तरह के वीडियो और तस्वीरें सांप्रदायिक रंग देकर शेयर किए जा रहे हैं। इसी बीच झारखंड में एक प्रेमी द्वारा अपनी प्रेमिका पर किए गए हमले का एक साल पुराना वीडियो एक बार फिर वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि ये नतीजा लव जिहाद का है, एक हिंदू लड़की पर उसके मुस्लिम प्रेमी द्वारा इस तरह प्रताड़ित किया जा रहा है।  इस वीडियो को शेयर करने वालों में BJP की IT Convener भी शामिल है।

उमा शंकर नाम के एक यूज़र द्वारा शेयर किए गए इस वीडियो को दो हज़ार से ज्यादा लोग रीट्वीट कर चुके हैं।

ये वीडियो इससे पहले सितंबर 2019 में भी वायरल हुआ था जिसका फैक्ट चेक Newschecker की टीम ने तब भी किया था।

Fact Check/Verification

वीडियो में एक जख़्मी युवती स्थानीय लोगों से मदद मांगते हुए दिख रही है। वीडियो पोस्ट करने वाले का दावा है कि एक विशेष समुदाय का युवक हिन्दू युवती को घुमाने के उद्देश्य से बाहर ले गया था जहां उसने चाकू से युवती का गर्दन काटकर मारने की कोशिश की। इस दौरान युवती के आवाज लगाने पर पास से गुजर रहे हिन्दू युवक ने युवती की जान बचाई।

वीडियो की सत्यता जानने के लिए हमने Google की मदद ली। खोज के दौरान हमें दैनिक भास्कर के एक लेख में वायरल वीडियो प्राप्त हुआ। लेख के मुताबिक वायरल वीडियो झारखण्ड के रांची जिले के पिठोरिया घाटी के पास का है। जहां एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका पर बेवफाई का आरोप लगाते हुए उसे जान से मारने की कोशिश की। लेख के अनुसार युवती द्वारा शादी का प्रस्ताव ठुकराए जाने पर नाराज प्रेमी ने चाकू से उस पर वार कर दिया।जिसके चलते युवती के गर्दन पर हल्की चोट लग गई। घटना के दौरान वहां से गुजर रहे लोगों ने प्रेमी युवक को पकड़ कर पहले पीटा और फिर पिठोरिया पुलिस के हवाले कर दिया। घटना के बाद से युवती दहशत में है।

ETV के एक लेख से हमें घटनाक्रम की पूरी जानकारी प्राप्त हुई। लेख के मुताबिक प्रेमी अरविंद ने अपनी प्रेमिका पर आरोप लगाया कि वह किसी दूसरे युवक से भी प्यार करती है और उसके साथ उसके अवैध संबंध हैं। इस बात को लेकर प्रेमी और प्रेमिका में तू-तू-मैं-मैं हुई, दोनों के बीच झगड़ा इतना बढ़ गया कि अरविंद ने आवेश में आकर चाकू से अपनी प्रेमिका की गर्दन पर वार कर दिया।

Conclusion

यह वीडियो एक बार फिर सांप्रदायिक एंगल देकर शेयर किया जा रहा है जबकि वीडियो में दिख रही युवती और युवक दोनों ही एक ही धर्म के हैं। इससे पहले साल 2019 में भी यह वीडियो भ्रामक दावे के साथ सोशल मीडिया पर शेयर किया गया था।

Result: Misleading


Our Sources

Dainik Bhaskar: https://www.bhaskar.com/jharkhand/ranchi/news/girl-stabbed-with-knife-for-rejecting-marriage-proposal-01642487.html?utm_expid=.YYfY3_SZRPiFZGHcA1W9Bw.0&utm_referrer=

ETVBharat: https://www.etvbharat.com/hindi/jharkhand/state/ranchi/boyfriednd-attack-his-girlfriend-with-knife-in-ranchi/jh20190915224250947


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें :checkthis@newschecker.in

Authors

Crime

प्रेम प्रसंग में युवक के साथ हुई अमानवीय घटना का वीडियो जातीय एंगल के साथ सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

सोशल मीडिया पर एक युवक को जूते से पानी पिलाने वाला एक वीडियो वायरल हो रहा है। दावा है कि युवक दलित है और उसके साथ ऐसा व्यवहार करने वाले ऊँची जाति के लोग हैं।

Published

on

सोशल मीडिया पर एक युवक के साथ हो रही बर्बरता का वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में देखा जा सकता है कि एक युवक को जूते से पानी पिलाया जा रहा है। वीडियो शेयर करने वाले यूज़र्स का दावा है कि पीड़ित युवक दलित समाज से है और उसके साथ बर्बरता करने वाले हिन्दू समाज के उच्च जाति वाले लोग हैं।

ट्वीट का आर्काइव लिंक यहाँ देखें।

सोशल मीडिया पर उक्त वीडियो को वायरल दावे के साथ कई अन्य यूज़र्स ने भी शेयर किया है।

Fact check / Verification

ट्विटर पर एक युवक के साथ हो रहे अमानवीय व्यवहार के वीडियो को सैकड़ों लोगों ने लाइक तथा रिट्वीट किया है। वायरल वीडियो के साथ शेयर किये जा रहे दावे की सत्यता तथा वीडियो कहाँ का है, यह जानने के लिए हमने अपनी पड़ताल आरम्भ की। पड़ताल के दौरान हमने सबसे पहले वीडियो को INvid टूल की सहायता से कुछ कीफ्रेम्स में तोड़ा।

इसके बाद हमने कीफ्रेम्स को गूगल पर रिवर्स इमेज टूल के माध्यम से खोजना शुरू किया। खोज के दौरान हमें FreePressJournal नाम की वेबसाइट पर वायरल वीडियो से संबंधित एक लेख मिला। वेबसाइट पर लेख को 16 जून साल 2020 को छापा गया था।

युवक दलित वायरल वीडियो

लेख के मुताबिक वायरल वीडियो की घटना राजस्थान के सिरोही जिले के सरदारपुरा गांव की है। जहां एक युवक को गांव की एक युवती से प्रेम प्रसंग का संबंध रखने के आरोप में पंचायत द्वारा दी गयी सजा के तहत पीटा गया साथ ही उसके साथ अमानवीय व्यवहार भी किया गया। रिपोर्ट के मुताबिक युवक और युवती एक ही समुदाय के हैं।

उपरोक्त वेबसाइट पर मिली जानकारी की पुष्टि के लिए हमने गूगल पर और बारीकी से खोजना शुरू किया। खोज के दौरान हमें दैनिक भास्कर भी वेबसाइट पर मामले से संबंधित एक लेख छपा मिला।

युवक दलित वायरल वीडियो

लेख के मुताबिक राजस्थान में एक गांव के कुछ लोगों ने एक युवक को गांव की ही एक स्वजातीय विवाहिता से प्रेम संबंध रखने के आरोप में पहले उसे पीटा और बाद में उसे बोतल में भर कर पेशाब तथा जूते में भरकर पानी पिलाया। लेख में बताया गया है कि उक्त घटना पाली जिले के गांव सुमेरपुर की है। जहां आरोपियों ने पीड़ित का अपहरण किया और उसे सिरोही के निकट सुपरणा (सरदारपुरा) गांव ले गए थे। बता दें कि घटना को अंजाम देने वाले विवाहिता के रिश्तेदार थे।

लेख में बताया गया है कि घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद इलाके की पुलिस ने रिपोर्ट भी दर्ज की थी। जिसके बाद पुलिस युवक की तलाश में उसके घर गई जहां कोई नहीं मिला। इस दौरान ग्रामीणों ने बताया कि कुछ दिन पहले परिवार के लोग कहीं चले गए हैं। घटना में ज़्यादती करने वाले पंच भी गायब हैं। पुलिस दोनों पक्षों को तलाश कर रही है।

मामले की सटीक जानकारी के लिए लिए हमने गूगल पर और बारीकी से खोजा। जहां हमें zeenews की वेबसाइट पर मामले से संबंधित एक लेख मिला। लेख में जानकारी दी गयी है कि मामले के 6 नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके साथ ही लेख में यह भी बताया गया कि मामले के दोनों पक्ष एक ही जाति के हैं।

युवक दलित वायरल वीडियो

खोज के दौरान हमें zee news के यूट्यूब चैनल पर उक्त मामले से संबंधित एक वीडियो मिला। जहां पुलिस द्वारा मामले पर मीडिया को दिए गए बयान को दिखाया गया है। इस दौरान पुलिस ने भी बताया कि मामला प्रेम-प्रसंग का है।

इसके बाद मामले की तह तक जाने के लिए हमने सुमेरपूरा थाने में भी इस नंबर (02933258422) पर सीधा संपर्क किया। जहां हमें बताया गया कि मामला प्रेम प्रसंग का है। इस दौरान जानकारी मिली कि उक्त मामले में आरोपियों को कोर्ट द्वारा सजा दी जा चुकी है। इसके साथ ही पुलिस ने जानकारी दी कि इस मामले में दोनों एक ही जाति के हैं, यह मामला किसी भी प्रकार से दलित उत्पीड़न से संबंधित नहीं है।

Conclusion

पड़ताल के दौरान मिले सभी तथ्यों से पता चला कि वायरल वीडियो क्लिप राजस्थान की है। जहां एक युवक को गांव की एक स्वजातीय विवाहिता से प्रेम प्रसंग रखने के आरोप में विवाहिता के परिजनों द्वारा पीटा गया। उक्त मामले में किसी भी प्रकार का दलित उत्पीड़न वाला एंगल नहीं है।

Result- Misleading


Our Sources

https://zeenews.india.com/hindi/india/rajasthan/due-to-love-affair-youth-urinated-in-a-bottle-fed-water-in-shoes/697218

https://www.bhaskar.com/local/rajasthan/news/angry-punches-forced-the-young-man-to-drink-water-and-urine-in-shoes-127415565.html

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें:9999499044या ई-मेल करें:checkthis@newschecker.in

Authors

Continue Reading

Crime

कर्नाटक में हुए अपहरण के वीडियो को सोशल मीडिया पर यूपी का बताकर किया गया शेयर

एक वीडियो में एक युवती का दिन-दहाड़े अपहरण होते हुए देखा जा सकता है। दावा किया गया है कि यह घटना यूपी में घटित हुई है।

Published

on

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, वीडियो में एक युवती का दिन-दहाड़े एक सड़क के किनारे से अपहरण होते हुए देखा जा सकता है। वीडियो शेयर करने वाले यूज़र का दावा है कि उत्तर प्रदेश में दिन-दहाड़े युवतियों का अपहरण हो रहा है, लेकिन योगी सरकार इन अपराधों पर मौन है।

ट्वीट का आर्काइव लिंक यहाँ देखें।

सोशल मीडिया पर वायरल इस क्लेम को कई अन्य यूज़र्स ने भी शेयर किया है।

Fact check / Verification

उत्तर प्रदेश के हाथरस में कथित तौर पर हुए बलात्कार के बाद प्रदेश के कई जिलों जैसे बलरामपुर और भदोही से युवतियों के साथ हुई बर्बरता की ख़बरें आई हैं। जिसके बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने योगी सरकार के लॉ एंड आर्डर पर कई सवाल उठाये।

इस दौरान उत्तर प्रदेश में महिलाओं के साथ हो रही हैवानियत पर योगी सरकार को घेरने के लिए सोशल मीडिया पर लोगों ने हाथरस प्रशासन को भी खूब ट्रोल किया। इसी बीच सोशल मीडिया पर योगी सरकार की निंदा करते हुए एक युवती के अपहरण का वीडियो शेयर कर दावा किया गया कि योगी सरकार में दिन-दहाड़े बेटियों का अपहरण हो रहा है।

वायरल वीडियो की सत्यता जानने के लिए पड़ताल आरम्भ की। पड़ताल के बाद हमने वायरल वीडियो को कुछ कीफ्रेम्स में तोड़कर रिवर्स इमेज टूल के माध्यम से खोजना शुरू किया। खोज के दौरान हमें mangloretoday नाम की वेबसाइट पर 16 अगस्त साल 2020 को छपी एक रिपोर्ट मिली।

युवती अपहरण घटना वीडियो

रिपोर्ट में वायरल वीडियो को अपलोड करते हुए यह जानकारी दी गयी है कि यह घटना कोलर जिले की है। लेख के मुताबिक एक युवती ने जब एक युवक के साथ शादी का प्रस्ताव ठुकरा दिया तो उसने युवती का अपहरण कर लिया। बता दें कि लेख में आगे यह बताया गया है कि पुलिस ने युवती को युवक के चंगुल से छुड़ा लिया है।

उपरोक्त मिले लेख के मुताबिक यह घटना कोलर शहर की है, जिसके बाद हमने गूगल पर कोलर जिले की जानकारी प्राप्त करने के लिए खोजना शुरू किया। इस दौरान गूगल पर मिले परिणामों से पता चला कि कोलर जिला कर्नाटक प्रदेश में है।

युवती अपहरण घटना वीडियो

हमने वायरल वीडियो की पुष्टि के लिए गूगल पर और बारीकी से खोजना शुरू किया। जिसकी बाद हमें वायरल वीडियो The times of India की वेबसाइट पर मिला। वायरल वीडियो को वेबसाइट पर 15 अगस्त साल 2020 को अपलोड किया गया था।

युवती अपहरण घटना वीडियो

यहाँ भी वायरल वीडियो की जानकारी देते हुए बताया जा रहा है कि उक्त अपहरण की घटना कर्नाटक के कोलर जिले से है। लेख में बताया गया है कि जब युवती ने युवक के साथ शादी का प्रस्ताव ठुकराया, तो उसके बाद युवक ने सोची-समझी साजिश के तहत हाल ही में 13 अगस्त को इस घटना को अंजाम दिया।

Conclusion

पड़ताल के दौरान मिले तथ्यों से पता चला कि दिन दहाड़े युवती के अपहरण का वायरल वीडियो उत्तर प्रदेश का नहीं बल्कि कर्नाटक के कोलर जिले का है, जहां एक युवक ने युवती द्वारा उसके शादी प्रस्ताव को ठुकराए जाने के बाद इस अपहरण की घटना को अंजाम दिया।

Result:Misleading

Our Sources

https://timesofindia.indiatimes.com/videos/city/bengaluru/karnataka-terrifying-abduction-of-a-woman-in-broad-daylight-caught-on-cam/videoshow/77565241.cms?from=mdr

http://www.mangaloretoday.com/headlines/Woman-kidnapped-openly-in-daylight-in-Kolar-Caught-on-Camera.html

(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in)

Authors

Continue Reading

Crime

हाथरस पीड़िता का अंतिम संस्कार नहीं देख रहे थे यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, फोटोशॉप्ड तस्वीर भ्रामक दावे के साथ वायरल

ट्विटर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की एक तस्वीर वायरल हो रही है। दावा किया गया है कि सीएम योगी लैपटॉप पर, कथित रूप से हाथरस गैंगरेप पीड़िता के दाह संस्कार का वीडियो देख रहे हैं।

Published

on

हाथरस पीड़िता की दाह संस्कार की वीडियो देख रहे हैं सीएम योगी

हाथरस जिले के एक गांव में 14 सितंबर को 4 लोगों ने 19 साल की एक दलित युवती के साथ कथित रूप से गैंगरेप किया था। पीड़िता की दिल्ली में इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस फोर्स द्वारा युवती के शव का अंतिम संस्कार करने का भी आरोप है। ऐसे में ट्विटर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की एक तस्वीर वायरल हो रही है जिसमें सीएम योगी लैपटॉप पर कथित रूप से लड़की के दाह संस्कार का वीडियो देख रहे हैं।

वायरल पोस्ट के आर्काइव वर्ज़न को यहां देखा जा सकता है।

नीचे देखा जा सकता है कि वायरल दावे को ट्विटर पर अलग-अलग यूज़र्स द्वारा शेयर किया जा रहा है।

फेसबुक पर भी इस दावे को अलग-अलग यूज़र्स द्वारा शेयर किया जा रहा है।

हाथरस गैंग रेप पिड़िता को युपी की जल्लाद पुलिस वालों ने कैसे जलाया उसकी लाइव वीडियो देखता हुआ एक नाकारा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ.. शर्म आनी चाहिए ऐसे मुख्यमंत्री को अगर इनकी खुद की बेटी होती क्या तब भी ऐसे लाइव देखते जह बेटी एक गरीब आदमी की है दलित समाज की है इसलिए लाइव देखा जा रहा है यूपी पुलिस खुद कर रही है मनीषा का रात को जबरदस्ती अंतिम संस्कार मनीषा के हत्यारों को क्या ऐसी सरकार फांसी की सजा देगी देना होगा जवाब भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अब क्यों चुप्पी बनाए बैठे हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार अब आए लाइव और दे मनीषा को इंसाफ अब कहां गया वो नाहरा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ जय भीम चैनल से ब्यूरो चीफ सुनील कुमार की रिपोर्ट

Posted by Jai Bhim Channel on Thursday, October 1, 2020

Fact Check/Verification

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रही तस्वीर की सत्यता जानने के लिए हमने पड़ताल शुरू किया। Google Reverse Image Search की मदद खोजने पर हमें कुछ परिणाम मिले।

सीएम योगी लैपटॉप पर कथित रूप से लड़की के दाह संस्कार का वीडियो देख रहे हैं।

Kaumudi Online और Zee News द्वारा प्रकाशित की गई मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हाथरस की घटना को लेकर सीएम योगी गैंगरेप पीड़िता के परिवार से वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए बात कर रहे थे।

सीएम योगी लैपटॉप पर कथित रूप से लड़की के दाह संस्कार का वीडियो देख रहे हैं।
सीएम योगी लैपटॉप पर कथित रूप से लड़की के दाह संस्कार का वीडियो देख रहे हैं।

अधिक जानकारी के लिए हमने ट्विटर खंगालना शुरू किया। पड़ताल के दौरान हमें सीएम योगी आदित्यनाथ के आधिकारिक हैंडल से किया गया एक ट्वीट मिला। @CMOfficeUP से ट्वीट करते हुए लिखा गया है कि मुख्यमंत्री सीएम योगी आदित्यनाथ हाथरस के पीड़ित परिवार से वीडियो कॉलिंग के माध्यम से बात कर रहे हैं।

खोज के दौरान न्यूज़ एजेंसी ANI द्वारा किया गया एक और ट्वीट मिला। ट्वीट की गई तस्वीर के साथ जानकारी दी गई है कि ‘सीएम योगी आदित्यनाथ ने हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए बात की।

ट्विटर खंगालने के दौरान हमें पत्रकार तनुश्री पांडे का एक ट्वीट मिला। लैपटॉप की स्क्रीन पर जो अंतिम संस्कार की फोटो दिख रही है उसको 30 सितंबर, 2020 को तनुश्री द्वारा ट्ववीट की गई थी।

ट्ववीट ने साथ कैप्शन में लिखा हुआ है, “हाथरस पीड़िता को उसके परिवार की मर्ज़ी के खिलाफ अंतिम संस्कार किया गया। पुलिस ने परिवार के सदस्यों और स्थानीय लोगों को घर में बंद कर दिया था। परिवार आखिरी बार अपनी बेटी को देख भी नहीं पाया। यह मानवता के खिलाफ है।”

नीचे दोनों तस्वीरों में वायरल तस्वीर और असली तस्वीर में अंतर को साफ देखा जा सकता है।

नीचे दोनों तस्वीरों में वायरल तस्वीर और असली तस्वीर में अंतर को साफ देखा जा सकता है।

Conclusion

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रही तस्वीर का बारीकी से अध्ययन करने पर हमने पाया कि सीएम योगी की वायरल हो रही तस्वीर फर्ज़ी है। पड़ताल में हमने पाया कि सीएम योगी हाथरस पीड़िता के परिवार से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए बात कर रहे थे।


Result: Manipulated/ False


Our Sources

Zee News https://zeenews.india.com/india/hathras-rape-case-uttar-pradesh-cm-yogi-adityanath-speaks-to-victims-father-assures-stringent-action-against-accused-2313636.html

Kaumudi Online https://keralakaumudi.com/en/news/news.php?id=403713&u=uttar-pradesh-cm-yogi-adityanath-has-assured-us-justice-says-father-of-hathras-gang-rape-victim

Twitter https://twitter.com/CMOfficeUP/status/1311303514006544385


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

Authors

Continue Reading